Sunday, November 27, 2022
Tel: 9990486338
Home उत्तर प्रदेश साइबर अपराध का शिकार होने पर तुरंत करें 1930 पर कॉल:

साइबर अपराध का शिकार होने पर तुरंत करें 1930 पर कॉल:

साइबर अपराध का शिकार होने पर तुरंत करें 1930 पर कॉल: नितिन पाण्डेय

सुलतानपुर

देश के प्रसिद्ध साइबर सुरक्षा विशेषज्ञ व उत्तर प्रदेश साइबर पुलिस के वरिष्ठ सलाहकार नितिन पाण्डेय ने कहा कि साइबर अपराधों में जिस तेज़ी के साथ वृद्धि देखी जा रही वह हम सभी के सामने एक व्यापक चुनौती है| इन चुनौतियों को देखते हुए भारत सरकार के गृह मंत्रालय ने एक हेल्पलाइन नंबर 1930 जारी किया है जिसपर साइबर अपराध से पीड़ित व्यक्ति फोन कर अपने साथ हुए साइबर अपराध की जानकारी देकर अपनी शिकायत पंजीकृत करा सकते हैं।
श्री पाण्डेय ने कहा कि आधुनिक दौर में हम विभिन्न प्रकार की एप्स इस्तेमाल करते हैं। डाउनलोड करते समय जल्दबाजी में बिना जानकारी किये हम इनको कॉन्टैक्ट्स, गैलरी के एक्सेस की अनुमति दे देते हैं। जिससे हम साइबर अपराधियों के आसान शिकार बनते हैं। इसलिए जानकारी ही बचाव है।
नितिन पाण्डेय ने बताया कि अक्टूबर माह साइबर सुरक्षा जागरूकता माह होता है जिसमें साइबर सुरक्षा को लेकर एजेंसियां व साइबर विशेषज्ञ देशभर में जागरूकता अभियान चलाते है। ये अभियान खासतौर पर युवाओं के लिए है जो ई गवर्नेंस, ई ऑफिस, ई कॉमर्स, ई मार्केटिंग के जरिये सबसे ज्यादा कम्युनिकेशन डिवाइस का इस्तेमाल कर रहे हैं। श्री पाण्डेय ने पासवर्ड को मजबूत करने और निश्चित अंतराल पर बदलने पर जोर दिया और टू वे ऑथेंटिकेशन का प्रयोग करने पर जोर दिया। साथ ही इंटरनेट के इस्तेमाल पर प्रॉपर प्रोटोकॉल का पालन करने को कहा।
हमसे बातचीत के दौरान श्री पाण्डेय ने बताया कि आज डार्क नेट, एनक्रिप्शन तकनीक और क्रिप्टोकरेंसी लॉ एनफोर्समेंट एजेंसियों के लिए बड़ी चुनौती है जिससे निपटने के लिए पुलिस विभाग को भी समय समय पर प्रशिक्षित किए जाने की बहुत आवश्यकता है।
इसके अलावा नितिन पाण्डेय ने बताया कि मोबाइल और कम्प्यूटर नेटर्वक को मिलाकर बने इन्फॉर्मेशन हाइवे को न जानने वालों के कारण साइबर अपराध बढ़ें हैं। टप्पेबाजी यानी सम्मोहन के कारण भी लोग साइबर अपराधों के शिकार बन रहे हैं। फ्री सर्विसेज में अपनी जानकारियां सांझा करना और गिफ्ट का लालच भी हमें पीड़ित बनाता है। साइबर अपराधों से निपटने के लिए फेडरल पुलिसिंग की आवश्यकता है। उन्होंने मोबाइल पर ओटीपी मांगने से लेकर फोन पर पैसा जमा कराने तक जैसे साइबर अपराधों के तरीकों का उदाहरण दिया और कहा कि जागरूकता ही साइबर अपराध से बचने का सबसे बड़ा उपाय है।

विभा (कंटेट एडिटर, खबर4इंडिया-आशा लक्ष्य)
विभा (कंटेट एडिटर, खबर4इंडिया-आशा लक्ष्य)https://www.khabar4india.com
विभा, खबर4इंडिया और हिंदी साप्ताहिक समाचार आशा लक्ष्य की कंटेंट एडिटर हैं। खबर4इंडिया का व्हाट्सएप ग्रुप जॉइन करने हेतु दिए गए लिंक का इस्तेमाल करें https://chat.whatsapp.com/BMNjNQpHZveBAPiyqwQIAO इस समाचार से जुड़ी शिकायत एवं सुझाव हेतु 9205441184 पर सम्पर्क करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

सुल्तानपुर कप्तान के एक्शन के बाद हरकत में आई पुलिस, गोवंश के अपहरण के मामले में देर रात मारी दबिश

*सुल्तानपुर ब्रेकिंग* कप्तान के एक्शन के बाद हरकत में आई पुलिस, गोवंश के अपहरण के मामले में देर रात मारी दबिश, पुलिस बदमाशों में मुठभेड़,...

सुल्तानपुर:प्रसासन का चला बुलडोजर चारागाह और नवीन परती की जमीन पर मचा हा हा कार

सुल्तानपुर:प्रसासन का चला बुलडोजर चारागाह और नवीन परती की जमीन पर मचा हा हा कार ब्यूरो चीफ अमरजीत पांन्डेय मोतिगरपुर सुलतानपुर माननीय हाईकोर्ट के बेदखली...

सुल्तानपुर रात के अंधेरे में पंचायत भवन में महिला के साथ आपत्तिजनक हालत में मिला युवक

रात के अंधेरे में पंचायत भवन में महिला के साथ आपत्तिजनक हालत में मिला युवक रात के अंधेरे में पंचायत भवन में महिला के साथ...

सुल्तानपुर पुलिस लाइन में “पुलिस झण्डा दिवस” का आयोजन

*पुलिस लाइन में “पुलिस झण्डा दिवस” का आयोजन...* ब्यूरो चीफ अमरजीत पांन्डेय सुल्तानपुर:-“पुलिस झंडा दिवस” के अवसर पर पुलिस अधीक्षक सोमेन बर्मा द्वारा रिजर्व...