Sunday, September 20, 2020
Tel: 9990486338
Home उत्तर प्रदेश हिंदी दिवस विशेष: राजभाषा के इस्तेमाल में हम क्यों झिझकते हैं ?

हिंदी दिवस विशेष: राजभाषा के इस्तेमाल में हम क्यों झिझकते हैं ?

आज 14 सितंबर यानी हिंदी दिवस है। लेकिन कही ना कही हमारी हिंदी अपने ही अस्तित्व के लिए लड़ रही है। तमाम सरकारी विभागों में हिंदी पखवाड़ा मनाया जाता है लेकिन उसके बाद सब हिंदी को भूल जाते हैं।

जी हां! अगर आपके बच्चे के समकक्ष कोई बच्चा अंग्रेजी बोल रहा है तो आपका सिर सिर्फ इसलिए झुक जाता है क्योंकि आपका बच्चा अंग्रेजी नही बोल पाता। अरे भाई! इसमें शर्म की क्या बात है क्या दूसरे देशों के माता पिता अपने बच्चों के मामले में ऐसा करते हैं। आज दूसरे देश भारत की राजभाषा हिंदी को अपना रहे हैं। लोग हिंदी सीखकर खुद को गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं और यहां भारत में हम जबतक अंग्रेजी के 2 4 शब्द हिंदी के बीच में इस्तेमाल करके हिंदी को हिंगलिश ना बना दे तबतक अपनी ठाट नही बनती।

हिंदी को जितना सरल लोग समझते हैं वह दरअसल उतनी आसान नही है। खासकर आज की पीढ़ी के लिए। आज की पीढ़ी के युवा हिंदी के बीच अंग्रेजी के शब्दों को घुसेड़कर ना सिर्फ हिंदी का अपमान करते हैं बल्कि अंग्रेजी की भी शान में कमीं ला देते हैं। इस तरह आधुनिक भारत ना अंग्रेजी है, ना हिंदी है बल्कि हिंगलिश बनकर रह गया है।

भारत में सर्वाधिक बोली जाने वाली हिंदी भाषा में शब्दों की कोई कमी नही है। कई शब्द ऐसे हैं जिनका मतलब सिर्फ एक एक्सपर्ट ही बता सकता है। वहीं, अगर हम फर्राटेदार अंग्रेजी की जगह शुद्ध और सरल हिंदी का इस्तेमाल अपनी बोलचाल में करें तो अंग्रेजी बोलने वाले से ज्यादा तरजीह आपको मिलेगी। लेकिन हम फर्राटेदार अंग्रेजी बोलने वाले को देखकर और उससे बराबरी करने के चक्कर में अपनी हिंदी नही बोलते और टूटी फूटी अंग्रेजी का सहारा लेते हैं। नतीजन ना सिर्फ हमारी बेइज्जती होती है बल्कि हमारी अपनी भाषा हिंदी भी हमसे धीरे धीरे दूर होती जाती है।

यह हर जगह हो रहा है। एक शख्स अगर अंग्रेजी अखबार लेकर सिर्फ देख रहा हो तो उसकी गिनती पढ़ें लिखे में हो जाती है कि फला आदमी अंग्रेजी अखबार पढ़ता है, चाहे उसे पढ़ना ना आता हो लेकिन दिखावा करके वह खुद को विद्वान साबित कर देता है। दूसरी तरफ हिंदी अखबार पढ़ने वाला शख्स देहाती, गाँव वाला की श्रेणी में आ जाता है फिर वह चाहे जितना योग्य क्यों ना हो।

हमारी हिंदी आज अपने ही देश में अपने सम्मान की लड़ाई लड़ रही है। आज भी हिंदी को राष्ट्रभाषा का दर्जा नही मिला है। हिंदी राजभाषा तो है पर राष्ट्रभाषा नही। इस तरह हमारी हिंदी संकट में हैं लेकिन हमारे हुकूमत की नजर इस बात पर नही जा रही है।

हम आज अपने बच्चों को हिंदी मीडियम की जगह अंग्रेजी मीडिया स्कूलों में भेज रहे हैं। एक निरक्षर माता पिता को जब उनका बच्चा आकर ABCD सुना देता है तो वह इतने खुश होते हैं कि जैसे मानों उन्हें पूरी दुनिया का सुख मिल गया हो। चाहे उनके बच्चे ने उन्हें गलत अंग्रेजी ही सुनाई या बताई हो। चूँकि वो निरक्षर हैं तो उन्हें उनका बच्चा पढ़ा ले जाता है। लेकिन निरक्षर होने के बाद भी अगर उनका बेटा हिंदी मीडियम स्कूल में पढ़ रहा होता हैं और कुछ उन्हें सुनाता है तो वह निरक्षर शख्स भी अपने बच्चे की गलतियों को पकड़ सकता है।

तो चलिए आज हम संकल्प लें कि अपनी हिंदी को सर्वश्रेष्ठ बनाने का काम करेंगे। गुड मॉर्निंग को जगह सुप्रभात और गुड नाइट की शुभरात्रि कहने की आदत डालें। अंग्रेजी व अन्य भाषा जरूर सीखें लेकिन अपनी मातृभाषा, राजभाषा को सबसे ऊपर रखें।

Avatar
ए. के. शुक्लाhttp://www.khabar4india.com
एके शुक्ला लगभग 5 वर्षों से मीडिया में सक्रिय हैं और खबर4इंडिया, खबर4यूपी और भड़ास4नेता के फाउंडर और संपादक हैं। शुक्ला कई समाचार चैनलों में विभिन्न पदों पर काम कर चुके हैं। शुक्ला बेखौफ और परिणाम की चिंता किए बिना जन सरोकार से जुड़ी पत्रकारिता करते रहे हैं। इस समाचार से जुड़े शिकायत एवं सुझाव हेतु मो. न. 9990486338 पर सम्पर्क किया जा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

अनुराग कश्यप, पायल घोष जैसों को दो लगाओ और हवालात में डालो: IPS अमिताभ ठाकुर

लखनऊ: अपनी बेबाकी के लिए मशहूर आईपीएस अमिताभ ठाकुर का मानना है कि सुशांत केस और खासकर रिया का ड्रग्स कनेक्शन में नाम आने...

सुल्तानपुर–जिलाधिकारी ने पंचायत भवन के निर्माण का किया शिलान्यास

*प्रेस विज्ञप्ति*   सुलतानपुर 20 सितम्बर/जिलाधिकारी रवीश गुप्ता द्वारा शनिवार 19 सितम्बर को विकास खण्ड दूबेपुर के ग्राम पंचायत हरखीदौलतपुर में मनरेगा योजनान्तर्गत/चतुर्थ राज्य वित्त आयोग...

अमेठी: गौरीगंज थाने की पुलिस ने 2 वांछितों को किया गिरफ्तार, काफी समय से चल रहे थे फरार

एसपी तिवारी की रिपोर्ट अमेठी: थाना गौरीगंज पुलिस द्वारा 02 नफर वांछित अभियुक्त गिरफ्तार । पुलिस अधीक्षक अमेठी श्री दिनेश सिंह के निर्देशन, अपर पुलिस अधीक्षक श्री...

अमेठी: विभिन्न थाना क्षेत्रों से 6 शराब तस्कर गिरफ्तार, 60 लीटर अवैध शराब बरामद

अमेठी से एसपी तिवारी की रिपोर्ट पुलिस अधीक्षक अमेठी श्री दिनेश सिंह के निर्देशन में, अपर पुलिस अधीक्षक श्री दयाराम सरोज के पर्यवेक्षण व क्षेत्राधिकारीगण...
%d bloggers like this: