Tue. Jan 21st, 2020

नई दिल्ली: पहले से ही महंगाई की मार झेल रही जनता पर मोदी सरकार ने एक बार फिर से डाका डाला है। नए साल के अवसर पर इंडियन रेलवे द्वारा रेल यात्रा में भारी-भरकम बढ़ोत्तरी की है। यानि 1 जनवरी 2020 से रेल में सफर करने के लिए आपको पहले से ज्यादा खर्च करने होंगे। हालांकि, बढ़ाई हुई रकम पहले से बुक किए गए टिकटों पर नहीं लागू होगा। यह सिर्फ 1 जनवरी 2020 से बुक किए जाने वाले टिकटों पर लागू होगा।

रेलवे ने यात्री किराए में चार पैसे प्रति किलोमीटर तक की बढ़ोतरी की है। नया किराया एक जनवरी, 2020 से प्रभावी होगा, लेकिन पहले से बुक कराए गए टिकट पर इसका असर नहीं पड़ेगा। उपनगरीय ट्रेन के किराए को भी इस बढ़ोतरी से बाहर रखा गया है। मंगलवार को जारी आदेश के मुताबिक साधारण दर्जे के नॉन-एसी ट्रेन के किराए में एक पैसे प्रति किलोमीटर की वृद्धि की गई है। मेल और एक्सप्रेस नॉन-एसी ट्रेन के लिए यह वृद्धि दो पैसे और एसी ट्रेन के किराए में चार पैसे प्रति किलोमीटर की बढ़ोतरी की गई है। बढ़ा हुआ किराया शताब्दी, राजधानी और दुरंतो जैसी प्रीमियम ट्रेनों पर भी लागू होगा।

मेल एक्सप्रेस ट्रेनों में बढ़े किराये की बात करें तो सेकेंड क्लास के किराये में 2 पैसे, स्लीपर क्लास के किराये में 2 पैसे तथा फर्स्ट क्लास के किराये में 2 पैसे की वृद्धि की गई है।

वहीं, एसी श्रेणी की बात करें तो एसी चेयर कार के किराये में 4 पैसे, एसी-3 टीयर के लिए 4 पैसे, एसी-2 टीयर के किराये में 4 पैसे तथा एसी फर्स्ट क्लास के किराये में भी चार पैसे की वृद्धि की गई है।

ऐसे समझें बढ़ा हुआ किराया

दिल्ली से कोलकाता की दूरी 1447 किलोमीटर है, अगर आप एसी क्लास में दिल्ली से कोलकाता जाते हैं तो आपको चार पैसे प्रतिकिलोमीटर के हिसाब से लगभग 58 रुपये ज्यादा किराया देना पड़ेगा।

इस पर कोई बदलाव नहीं

रेलवे के आदेश के मुताबिक रिजर्वेशन और सुपरफास्ट चार्ज में कोई बदलाव नहीं किया गया है। कैटरिंग चार्ज में भी किसी तरह का बदलाव नहीं हुआ है।

Please follow and like us:
0Shares
RSS
Follow by Email
Facebook
Twitter
Visit Us
%d bloggers like this: